Saturday, 26 July 2008

मयखाने में एक नई मस्त साईट

लिखने, पढने और बोलने से भी अहम है सुनना और समझना, ख़ास कर अगर आप कोई नई ज़ुबान सीख रहे हैं तो । ऐसे ही लोगों के लिए हवा के ताज़े झोंके जैसी है साईट : YAPPR.COM (यप्पर.कॉम) । मसलन आप इतालवी ज़ुबान सीख रहे हैं तो बस इस साईट पर जाकर इटालियन सेलेक्ट करें और देखें मज़ेदार VIDEOS जो हैं तो अंग्रेज़ी मैं मगर आपको उनका इतालवी तर्जुमा भी साथ में लिखा मिलता जाएगा। ज़ियादा तो नहीं खंगाली अभी ये साईट मगर चाहता हूँ के आप इसे देखें तो अपना तजुर्बा मुझे भी बताएं।

9 comments:

  1. लगा आया एक चक्कर भाई. अभी ज़्यादा कुछ समझ में नहीं आया अलबत्ता. चलिए खोजते हैं शायद कुछ मिल जाए टैम पास करने को.

    ReplyDelete
  2. may se meena se na saqi se.......apke aa jaane se, ye amar geet mujhe yaad aaya apke aate hi.

    ReplyDelete
  3. आपने बडे काम की बात बता दी मुझे फ़्रेंच सीखने की बडी चाह है अभी थोडी कोशीश करता हुँ !रब आपकोशांती ,शक्ती ,समॄद्धी, ,स्नेह ,समंपन्नता ,सज्जनता ,सहयोग ,सम्मान ,सहनशीलता ,सहृदयता और सरस्वती स्नेह प्रदान करे !!

    ReplyDelete
  4. आपने बडे काम की बात बता दी मुझे फ़्रेंच सीखने की बडी चाह है अभी थोडी कोशीश करता हुँ !रब आपकोशांती ,शक्ती ,समॄद्धी, ,स्नेह ,समंपन्नता ,सज्जनता ,सहयोग ,सम्मान ,सहनशीलता ,सहृदयता और सरस्वती स्नेह प्रदान करे !!

    ReplyDelete
  5. रब आपको दीपकोवाच दे, सब आपको पव्वा दे, पब आपको रमोस्काच दे, शब आपको हव्वा दे, ... आमीन.

    ReplyDelete
  6. ऊपर वाली सारी नेमतों के साथ ..और चश्मे के को धुंधला होने का मौका भी दे [ :-)]

    ReplyDelete